इजरायली विदेश मंत्री ने यूएन चीफ को कहा हमास का हमदर्द, विश्व शांति के लिए लिए बताया खतरा

33
0

तेल अवीव: इजरायल के विदेश मंत्री एली कोहेन ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतारेस पर हमास का समर्थन करने का आरोप लगाया है। कोहेन ने गुतारेस के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि यूएन चीफ के तौर पर उनका कार्यकाल विश्व शांति के लिए खतरा है। इजरायल की ये प्रतिक्रिया गुतारेस की गाजा में युद्ध रोकने की मांग पर आई है। गुतारेस ने इजरायल और हमास के बीच युद्ध में तत्काल युद्धविराम का आग्रह किया है। उन्होंने सुरक्षा परिषद से हस्तक्षेप की मांग करते हुए यूएन चार्टर के एक क्लॉज 99 का हवाला दिया है।

एली कोहेन ने कहा कि 7 अक्टूबर को दक्षिणी इजरायल में हमास के अत्याचारों के कारण गाजा में दो महीने से चल रहे युद्ध में संघर्ष विराम के लिए गुतारेस का आह्वान फिलिस्तीनी आतंकवादी संगठन हमास के लिए समर्थन है। गुतारेस हमास को समर्थन जताके जुर्गों की हत्याओं, शिशुओं का अपहरण और महिलाओं के बलात्कार किए जाने का समर्थन कर रहे हैं। वह दुनिया में शांति के लिए खतरा बन रहे हैं।

एंटोनियो गुतारेस ने क्या कहा है
गुटेरेस ने बुधवार को यूएन चार्टर के आर्टिकल 99 के तहत 15 सदस्यीय सुरक्षा परिषद को पत्र लिखा है और गाजा में युद्धविराम की अपील की है। 1989 के बाद यह पहली बार है कि किसी महासचिव ने इस आर्टिकल का उपयोग किया है। ये आर्टिकल यूएम प्रमुख को ऐसे मामले को परिषद के ध्यान में लाने की अनुमति देता है, जिससे उनको लगता है कि अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा को खतरा है। इस आर्टिकल के तहत लिखे पत्र में गुतारेस ने गाजा में मानवीय संघर्ष विराम का आह्वान करते हुए कहा है कि इजराल और हमास की जंग की वजह से वहां मानवीय संकट खाड़ हो रहा है।
गाजा पट्टी में जंग के बाद इजरायल लगातार संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतारेस पर भड़का हुआ है। गुतारेस की ओर से बार-बार गाजा में जंग के बाद बदतर होते हालात पर बयान आ रहे हैं। गुतारेस के गाजा में आम लोगों की मौतों पर फिक्र को इजरायल की ओर से हमास का समर्थन कहा जा रहा है। बता दें कि 7 अक्टूबर के हमले के बाद गाजा पट्टी में लड़ाई छिड़ी हुई है। इजरायल की सेना की ओर से बीते दो महीने से लगातार गाजा पट्टी में हमले कर रही है। जिसमें करीब 16 हजार लोगों की मौत हो चुकी है और कई लाख लोगों को अब तक घर छोड़कर जाना पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here