Home देश

चित्रकूट पहुंचे संघ प्रमुख,राम की भूमि को प्रणाम कर लगाई मंदाकिनी में डुबकी

452
0

पहले ही दिन तीन बैठकों में शामिल हुए सर संघ चालक, 8 से 12 जुलाई तक आरोग्य धाम में चलेगी संघ की वार्षिक बैठक,सौंपे गए दायित्व

देश भर से आने वाले आरएसएस पदाधिकारियों – प्रचारकों का रहेगा जमावड़ा

सतना। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सर संघ चालक मोहन भागवत मंगलवार को चित्रकूट पहुंचे। आठ दिवसीय प्रवास पर पहुंचे संघ प्रमुख ने मंदाकिनी में डुबकी लगाई और फिर बैठकों का दौर शुरू हो गया।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत मंगलवार को संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से कर्वी के रास्ते चित्रकूट पहुंचे। भागवत यहां 13 जुलाई तक रहेंगे और संघ की वार्षिक बैठक में शामिल होंगे। इस बैठक में संघ के राष्ट्रीय – अन्तर्राष्ट्रीय पदाधिकारी तो शामिल होंगे ही देश भर से 90 प्रांत प्रचारक तथा 18 क्षेत्र प्रचारक भी उपस्थिति दर्ज कराएंगे। संघ प्रमुख के पहुंचने के साथ ही प्रमुख प्रचारक तथा आरोग्य भारती के राष्ट्रीय संगठन मंत्री अशोक वार्ष्णेय, पूर्वी उप्र क्षेत्र के प्रचारक अनिल कुमार तथा मप्र मध्य क्षेत्र के प्रचारक दीपक वसपुते भी चित्रकूट पहुंच गए हैं।

धरती – ध्वज को प्रणाम ,मंदाकिनी में डुबकी –

संघ प्रमुख मोहन भागवत को चित्रकूट में दीन दयाल शोध संस्थान के आरोग्य धाम परिसर में ठहराया गया है। संघ की 8 जुलाई से शुरू हो रही वार्षिक बैठक भी आरोग्य धाम में ही होना है। संघ प्रमुख ने मंगलवार को चित्रकूट पहुंच कर भगवान राम की तपोभूमि और संघ के ध्वज को प्रणाम किया । उन्होंनेपावन सलिला मंदाकिनी में डुबकी लगाई, पूजन किया और पंडित दीनदयाल का स्मरण कर उनके सिद्धांतो का जिक्र भी किया।

पहले दिन हुईं तीन बैठकें –

आरएसएस की वार्षिक बैठकों की शुरुआत के पहले व्यवस्था और तैयारियों से सम्बंधित बैठकों की शुरुआत संघ प्रमुख के चित्रकूट पहुंचने के साथ ही हो गई। पहले दिन एक के बाद एक तीन बैठके हुईं जिनमें से दो बैठकों में संघ प्रमुख स्वयं भी उपस्थित रहे। सूत्रों ने बताया कि पहली बैठक सुबह 10 से 12 बजे तक संघ प्रमुख की उपस्थिति में चली। भोजनावकाश के पश्चात दोपहर 2 से 3 तक दूसरी तथा सायं 4 से 5 के बीच तीसरी बैठक आयोजित की गई। ये बैठकें परिचयात्मक और व्यवस्थागत रहीं जिनमे वार्षिक बैठक के दौरान कर्तव्य निर्वहन के लिए दायित्व सौंपे गए। बैठक – भोजन ,विश्राम और भ्रमण के दौरान किस की ड्यूटी कहां रहेगी और कौन क्या करेगा यह सब तय कर दिया गया। सतना से संघ पदाधिकारी उत्तम बनर्जी बैठक में शामिल हुए।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम, किसी को इजाजत नही –

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की 5 दिनी अखिल भारतीय बैठक आरोग्य धाम परिसर में होनी है। संघ प्रमुख समेत सभी पदाधिकारी एवं अन्य अपेक्षित जन को इसी परिसर में ठहराया जाना है। इस लिहाज से चित्रकूट में सुरक्षा के जबरदस्त इंतजाम किए गए हैं। चप्पे चप्पे पर सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। न सिर्फ परिसर बल्कि आसपास के क्षेत्र में भी कड़ी निगरानी का बंदोबस्त किया गया है। आरोग्य धाम परिसर में किसी को भी प्रवेश की इजाजत नही है। मीडिया को भी हमेशा की तरह आयोजन स्थल से दूर रखा गया है। हालांकि आयोजन स्थल पर बैठक – भोजन और विश्राम से सम्बंधित सभी दायित्व संघ के कार्यकर्ताओ को सौंपे गए हैं लेकिन प्रोटोकॉल के तहत प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों की भी तैनाती की गई है। मंगलवार को कलेक्टर अजय कटेसरिया तथा एसपी धर्मवीर सिंह यादव ने चित्रकूट पहुंच कर व्यवस्था का जायजा लिया।

पहले भी हो चुका है चित्रकूट – रामवन में चिंतन –

यह कोई पहला मौका नही है जब चित्रकूट में आरएसएस के देश भर के पदाधिकारी चिंतन – मनन करने के लिए जमा हो रहे हैं। वर्ष 2005 में जब केसी सुदर्शन संघ प्रमुख और मौजूदा संघ प्रमुख मोहन भागवत सर कार्यवाह थे तब भी चित्रकूट में संघ की बड़ी बैठक हुई थी। इसके पश्चात संघ पदाधिकारियों ने सतना शहर के समीप रामवन में भी संघ की कार्य योजना पर कई दिनों तक विचार विमर्श किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here