टीम इंडिया के इन पांच ‘पांडवों’ का जन्मदिन आज, कोई टीम की जान तो कोई रह चुका है शान

30
0

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट के लिए 6 दिसंबर का दिन बहुत खास है। आज भारतीय क्रिकेट के पांच दिग्गजों का जन्मदिन है। इस लिस्ट में जसप्रीत बुमराह, रविंद्र जडेजा, श्रेयस अय्यर, करुण नायर और आरपी सिंह सरीखे सूरमा शामिल हैं। दिलचस्प बात ये है कि आरपी सिंह को छोड़कर सारे खिलाड़ी एक्टिव क्रिकेटर हैं, जिसमें श्रेयस अय्यर, रविंद्र जडेजा और जसप्रीत बुमराह तो वर्ल्ड कप में भी भारत की ओर से दम दिखा रहे थे। करुण नायर लंबे समय से टीम से बाहर हैं। चलिए नए नजर डालते हैं भारतीय क्रिकेट के इन पांच पांडवों पर…

जसप्रीत बुमराह

अहमदाबाद में जन्में जसप्रीत बुमराह का आज 30 साल के हो गए। 6 दिसंबर 1993 को जन्में बुमराह दुनिया के नंबर एक तेज गेंदबाज हैं। वह तीनों फॉर्मेट में भारत के अहम खिलाड़ी भी हैं। बुमराह 89 वनडे मैचों में 143 विकेट ले चुके हैं। वहीं 62 टी-20 इंटरनेशनल में उन्होंने 61 विकेट अपने नाम किए हैं। 30 टेस्ट मैच में बुमराह ने 128 शिकार किए हैं।

रविंद्र जडेजा​

गुजरात के जामनगर वाले रविंद्र जडेजा टी-20 सीरीज में भारत के अगले उपकप्तान बनाए जा चुके हैं। 6 दिसंबर 1988 को सौराष्ट्र में जन्में जड्डू भारत के लिए अबतक 67 टेस्ट, 197 वनडे और 64 टी-20 इंटरनेशनल खेल चुके हैं। हैरान करने वाली बात है कि आईपीएल के स्टार ऑलराउंडर के नाम वनडे और टी-20 में कोई शतक नहीं है जबकि तीन सेंचुरी उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में लगाए हैं। बाएं हाथ के इस स्पिनर ने टेस्ट में 275 विकेट झटके। उनकी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी 42 रन देकर 7 विकेट है।

श्रेयस अय्यर

​​​​मुंबई में जन्में इस मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज का आज 29 साल के हो गए। 6 दिसंबर 1994 को पैदा हुए श्रेयस के भीतर टीम मैनेजमेंट को अगला कप्तान नजर आता है। अय्यर 10 टेस्ट, 58 वनडे और 51 टी-20 इंटरनेशनल खेल चुके हैं। वर्ल्ड कप 2023 में उनके बल्ले से जमकर रन निकले, जिसमें उन्होंने बड़े-बडे़ शतक मारे।

करुण नायर​

जोधपुर में जन्मे करुण नायर आज 28 साल के हो गए। मूलत: कर्नाटक के रहने वाले करुण नायर टेस्ट क्रिकेट में वीरेंद्र सहवाग के बाद तिहरा शतक जमाने वाले दूसरे भारतीय क्रिकेटर हैं। यह हैरान ही करता है कि टेस्ट मैच में तिहरा शतक ठोकने के बाद वह अब तक तीन ही टेस्ट मैच खेल पाए। अब करुण नायर घरेलू क्रिकेट में अपने प्रदर्शन का लोहा दिखाकर टीम में वापसी की उम्मीदों में लगे हुए हैं।

 

​​आरपी सिंह

​​​​किसी जमाने में टीम इंडिया के मुख्य तेज गेंदबाज रहे आरपी सिंह का जन्म 6 दिसंबर 1985 को उत्तर प्रदेश के रायबरेली में हुआ। बाएं हाथ के पेसर रहे रुद्र प्रताप सिंह ने 2004 के अंडर-19 विश्वकप में अपने शानदार प्रदर्शन के बूते भारतीय टीम में जगह बनाई। भारत के लिए 14 टेस्ट, 58 वनडे और 10 टी-20 इंटरनेशनल में क्रमश: 40, 69 और 15 विकेट झटके। 5 सितंबर 2018 को उन्होंने क्रिकेट से संन्यास ले लिया।​​

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here