महादेव सट्टा ऐप आरोपी के 2 दिन से लापता पिता का मिला शव, संदिग्ध हालत में कुएं में तैरती मिली बॉडी

33
0

दुर्गः छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव से पहले चर्चा में आया महादेव ऑनलाइन सट्टा एप चुनाव पूरा होने के बाद एक बार फिर चर्चा में आ गया है। एप मामले में अरेस्ट हुए आरोपी के पिता का शव कुए में संदिग्ध हालत में बरामद हुआ है। आरोपी असीम दास को पुलिस ने महादेव ऑनलाइन सट्टा ऐप घोटाले के मामले में गिरफ्तार किया है। वहीं, उसके पिता सुशील दास का शव कुएं में बरामद हुआ है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है।

दरअसल, दुर्ग जिले के अंतर्गत आने वाले अछोटी गंवा के एक कुएं में शव बरामद हुआ है। असीम के पिता एक सिक्योरिटी कंपनी में काम करते थे। वे रविवार के दिन से गायब थे मंगलवार की दोपहर को उनका शव कुएं से पुलिस ने बरामद किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
दो दिनों से गायब थे आरोपी के पिता
महादेव सट्टा ऐप के आरोपी असीम के पिता सुशील दास अछोटी गांव में ही एक प्राइवेट कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड का ही काम करते थे। रविवार की रात वें ड्यूटी करने के लिए निकले थे लेकिन उसके बाद घर ही नहीं लौटे। वे रविवार से ही लापता थे। घरवालों ने उनकी तलाश के लिए पूरे गांव के साथ ही आसपास के गांव में भी तलाश की थी लेकिन उनका कोई पता नहीं चल पाया था। मंगलवार के दिन ग्रामीणों ने गांव के ही एक कुएं में किसी व्यक्ति की लाश को देखा। शंका होने पर परिजनों को बुला लिया साथ ही पुलिस को भी जानकारी दी। शव को निकालकर देखने पर लाश सुशील दास की होना सामने आया।

महादेव ऐप घोटाले के आरोपी का पिता है सुशील

मामले को लेकर पुलिस ने जानकारी दी कि सुशील दास आरोपी असीम दास का पिता है। असीम दास वहीं आरोपी है जिसे ईडी ने महादेव सट्टा ऐप मामले में पकड़ा है। मृतक के बेटे असीम को पुलिस ने घोटाले के मामले में नवंबर महीने में अरेस्ट किया था। इसी से पूछताछ के बाद सीएम भूपेश बघेल का नाम महादेव एप मामले में सामने आया था। इसी आरोपी के पिता का शव कुएं में मिला है।

पुलिस ने जताई सुसाइड की आशंका
आरोपी असीम दास के पिता के शव को बरामद करने के बाद पीएम के लिए जिला अस्पताल भेजा है। शव को लेकर पुलिस का कहना है कि शुरूआती जांच के बाद मामला सुसाइड का लग रहा है। बॉडी में किसी तरह के मारपीट और झड़प के निशान नहीं मिले है। मौत की असली वजह पीएम रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगी। वहीं, शव को हॉस्पिटल भिजवाने के साथ ही पुलिस ने मृतक के परिजनों सहित इस घोटाले से जुड़े संदिग्ध लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस इसे हत्या के एंगल से भी देखते हुए महादेव ऐप घोटाले के आरोपियों से भी पूछताछ कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here