श्रीमती निर्मला बुच ने यशस्वी जीवन जिया: मुख्यमंत्री श्री चौहान

69
0

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की पूर्व मुख्य सचिव स्व.श्रीमती निर्मला बुच के अंतिम दर्शन किए तथा पुष्प चक्र अर्पित किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अरेरा कॉलोनी स्थित उनके निवास पहुंचकर श्रद्धांजलि अर्पित की तथा परिजनों से शोक संवेदना व्यक्त कर ढांढस बँधाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि श्रीमती बुच ने यशस्वी जीवन जिया। बहुमुखी प्रतिभा की धनी श्रीमती बुच को उनके कुशल नेतृत्व और संवेदनशील व्यक्तित्व के लिए प्रदेश के प्रभावी प्रशासकों की अग्रिम पंक्ति में लंबे समय तक याद रखा जाएगा। उल्लेखनीय है कि श्रीमती निर्मला बुच का अवसान 9 जुलाई को हुआ।

सामाजिक क्षेत्र में रही महत्वपूर्ण भूमिका

श्रीमती बुच ने देवास और उज्जैन ज़िलों की कलेक्टर रहने के बाद मध्य प्रदेश शासन में कई महत्वपूर्ण पद संभाले। विकास आयुक्त रहते हुए पाँच वर्ष के लंबे कार्यकाल में ग्रामीण विकास में उनका विशेष योगदान रहा। श्रीमती बुच प्रमुख सचिव गृह एवं श्री सुन्दरलाल पटवा के मुख्यमंत्री काल के दौरान सितंबर 1991 से जनवरी 1993 तक मुख्य सचिव रहीं। वे भारत सरकार में संयुक्त सचिव (समाज कल्याण) और सचिव, ग्रामीण विकास मंत्रालय रहीं। शासकीय सेवानिवृत्ति के बाद श्रीमती बुच सामाजिक सेवा, विशेषकर महिला विकास के क्षेत्र में व्यस्त रहीं। उन्होंने महिला चेतना मंच नामक संस्था की स्थापना कर उल्लेखनीय कार्य किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here