हमास के खात्मे के बाद गाजा में क्या करेगा इजरायल, पीएम नेतन्याहू ने दुनिया को बताया पूरा प्लान

35
0

तेल अवीव: इजरायल की सेना ने आक्रामकता के साथ गाजा में अपना अभियान बढ़ा रही है। इजरायली सेना, आईडीएफ ने उत्तर के बाद दक्षिण गाजा पर हमले तेज किए हैं। गाजा के जल्दी पूरी तरह से आईडीएफ के नियंत्रण में जाने की संभावना के बीच इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने युद्ध के लक्ष्यों को दोहराया है। नेतन्याहू ने एक बार फिर हमास की कमर तोड़ने और हमास के सभी कमांडरों को खत्म करने की बात दोहराई है। साथ ही नेतन्याहू ने कहा है कि इजरायली सेना गाजा पट्टी में एक विसैन्यीकृत क्षेत्र बनाने के लिए काम करेगी।

नेतन्याहू ने युद्ध का मकसद बताते हुए फिर से दोहराया कि गाजा से वह अपने बंदियों को वापस लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। साथ ही हमास की सैन्य और राजनीतिक क्षमताओं को पूरी तरह से खत्म किया जाएगा। जिससे भविष्य में इजरायल को गाजा पट्टी से कोई खतरा महसूस ना हो। नेतन्याहू ने इन बातों के साथ ही युद्ध समाप्त होने के बाद अपने प्लान का भी खुलासा किया। उन्होंने कहा कि इजरायली सेना गाजा पट्टी में एक विसैन्यीकृत (डिमिलिटराइज्ड) क्षेत्र बनाने के लिए काम करेगी। नेतन्याहू ने ये भी कहा कि उन्हें गाजा पट्टी के विसैन्यीकरण के लिए किसी दूसरी अंतरराष्ट्रीय ताकत के बजाय अपनी सेना पर भरोसा है। बता दें कि डीएमजेड यानी डिमिलिटराइज्ड जोन एक ऐसा क्षेत्र होता है, जहां सेना की तैनाती, हथियारों की तैनाती और दूसरी सैन्य गतिविधियां नहीं की जा सकती हैं।

हमास के खात्मे तक युद्ध ना रोकने की बात दोहराई

बेंजामिन नेतन्याहू ने मंगलवार रात तेल अवीव में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि एक दुनियाभर से उन पर युद्ध को खत्म करने का दबाव है। मैं यहां से दुनिया भर में अपने दोस्तों से कहता हूं कि युद्ध को जल्दी समाप्त करने का हमारा एकमात्र तरीका हमास के खिलाफ भारी बल का उपयोग करते हुए उसे खत्म करना है। सैन्य अभियान ही गाजा युद्ध को समाप्त करने और बंधकों की वापसी सुनिश्चित करेगा। अगर दुनिया चाहती है कि युद्ध जल्दी खत्म हो तो उन्हें हमारे पक्ष में मजबूती से खड़ा होना होगा।

इजराइल के रक्षा मंत्री योव गैलेंट ने भी गाजा में सैन्य अभियान जारी रखने और हमास के खात्मे के बाद ही जंग रुकने की बात दोहराई है। गैलेंट ने कहा कि गाजा में सेना बड़े लाभ हासिल कर रही है, लेकिन यह बड़े नुकसान के बिना नहीं आती है। नुकसान से उनका इशारा सीधे तौर पर उन 80 इजरायली सैनिकों की मौत की ओर था, जो गाजा पट्टी में जमीनी कार्रवाई शुरू होने के बाद से मारे गए हैं। उन्होंने कहा कि नुकसान के बावजूद हम लक्ष्य से पीछे नहीं हटेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here