Home छत्तीसगढ़

डेंगू नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए निकाली जागरूकता रैली

28
0

रायगढ़ 04 अगस्त 2022, छोटी-छोटी युक्ति से, डेंगू की मुक्ति। दूषित जल को हटाना है, डेंगू से सबको बचाना है, जैसे स्लोगनों की तख्तियां लिए करीब 120 छात्र गुरुवार सुबह शहर के मुख्य मार्गों में रैली की शक्ल में निकले थे। स्वास्थ्य विभाग के बैनर तले नगर निगम के सहयोग से शासकीय नर्सिंग कॉलेज और राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्रों ने डेंगू नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए जागरूकता रैली निकाली। कलेक्टर रानू साहू और महापौर जानकी काटजू ने रैली को हरी झंडी दिखाई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एसएन केसरी समेत स्वास्थ्य अमले के सभी आलाधिकारी और राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के कंसलटेंट शेख निसार मौके पर मौजूद रहे।

इस मौके पर सीएमएचओ डॉ. केसरी ने डेंगू के कारणों, उससे निजात और जनजागरूकता से इसे खत्म करने की बात कही तो महापौर जानकी काटजू ने कहा “सामूहिक जागरूकता से ही डेंगू के डंक से बचा जा सकता है, डेंगू एडीज एजिप्टी रोग वाहक मच्छर के द्वारा फैलता है। इस रोग का प्रसार अधिकतर जुलाई से नवंबर माह के मध्य होता है। यह मच्छर घर के अंदर और उसके आसपास के स्थानों पर रहता है, वहीं पर पनपता है और केवल दिन के समय में ही काटता है। यह एक प्रभावित व्यक्ति से दूसरे स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में तेजी से प्रसार करता है। डेंगू बुखार की रोकथाम एवं निवारण में जागरूकता की महत्वपूर्ण भूमिका है।“

निगम के स्वास्थ्य प्रभारी संजय देवांगन ने कहा: “बरसात अभी रूक-रूक कर हो रही है। उमस है और ऐसे मौसम में ही कई बीमारियां घेर लेती हैं। लोग पानी को जमा न होने दें। घर के आसपास जहां भी पानी जमा हो रहा है तुरंत उसे साफ करें। निगम के पास पर्याप्त दवा और साधन है लेकिन जब तक लोग ही अपने आसपास के लिए जागरूक नहीं होंगे तब हमारा अभियान अधूरा है। डेंगू जैसी बीमारियों से बचने के लिए लोगों के प्रयास भी आवश्यक है। शहर के बीच में कई लोगों ने नालियों को ढंककर,पाटकर या कलवट बना लिए हैं जिससे पानी रूकता है और नालियों की सफाई नहीं होती। लोग निगम के सफाई अमले का सहयोग करें। हम सभी के प्रयास से स्वस्थ रायगढ़ स्वच्छ रायगढ़ बनेगा।“

स्वास्थ्य केंद्रों में है डेंगू जांच की निशुल्क व्यवस्था
सीएमएचओ डॉ. एसएन केसरी ने बताया: ”कलेक्टर रानू साह के निर्देश पर पैथालॉजी में डेंगू के संभावित मरीजों की जांच किये जाने के संबंध में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से डेंगू की जांच करने के लिए निर्देश दिया गया। रायगढ़ जिसे के सभी शासकीय चिकित्सालय, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, हमर क्लीनिक, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रामभांठा, इंदिरा नगर, गांधीनगर, यूएचडब्ल्यूसी देवारपारा, जगतपुर, जेलपारा, झोपड़ीपारा, सराईभदर डीपापारा में डेंगू की जांच निशुल्क की जा रही है। लोग इन जगहों पर जाकर डेंगू की निशुल्क जांच कराएं । तेज बुखार, उल्टी आना, शरीर पर लाल चकते पड़ना डेंगू के लक्षणों में से हैं। बुखार को कन्ट्रोल करने के लिए चिकित्सीय परामर्श लें। हर बुखार डेंगू का नही होता है, डेंगू के लक्षण होने पर समय से डॉक्टर की सलाह लें और डॉक्टर की सलाह पर ही दवा का सेवन करें।“

हॉस्पिटल-पैथालॉजी संचालकों को निर्देश
स्वास्थ्य विभाग के शहरी कार्यक्रम प्रभारी डॉ. राकेश वर्मा ने बताया: “नर्सिंग एक्ट के अंतर्गत सभी नर्सिंग होम, पैथालॉजी लैब और ऐसे क्लीनिक जहां बुखार के मरीज आते हों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हुई। जिसमें उन्हें हर दिन डेंगू की जांच करने के बाद आई रिपोर्ट (पॉजिटिव और नेगेटिव दोनों) को स्वास्थ्य विभाग द्वारा मुहैया कराई गई गूगल सीट में भरना होगा। साथ ही जिनका रैपिड एंटीजन टेस्ट में डेंगू पॉजिटिव आया है उनके सीरम सैंपल को मेडिकल कॉलेज स्थित वायरोलॉजी लैब भेजना जरूरी है। जिन लोगों में बुखार के साथ ही डेंगू के लक्षण हैं उनकी जांच सुनिश्चित की जाए। सभी को डेंगू के हॉटस्पॉट वाले जगहों को बताया गया।“

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here