Home छत्तीसगढ़

जंगल में दातून तोड़ने गए चरवाहा पर भालू ने किया हमला

33
0

कोरबा  कोरबा जिले में करतला वन परिक्षेत्र के चारमार इलाके में मादा भालू के हमले से एक ग्रामीण बुरी तरह जख्मी हो गया। करतला के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में उसे उपचार दिया गया है। रामपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले चारमार गांव का रहने वाला फुलेश्वर राठिया मवेशियों को लेकर जंगल गया हुआ था। मवेशी अपनी भूख मिटाने में व्यस्त थे। ऐसे में ग्रामीण ने समय का सदुपयोग करने के लिये खुद पास के पेड़ से दातून तोड़ने में लग गया।

इसी दौरान अपने शावक के साथ पहुंची मादा भालू ने उस पर हमला कर दिया। पीड़ित के परिजन ने बताया कि आस-पास के लोगों से इस मामले की जानकारी हुई, तब यहां वहां फोन करने के बाद एंबुलेंस से पीड़ित को करतला अस्पताल लाया गया।

पीड़ित पक्ष के द्वारा इस बारे में वन विभाग को भी जानकारी दी गई, जिस पर विभाग ने संज्ञान लिया। डिप्टी रेंजर गजाधर राठिया ने बताया कि पीड़ित को उपचार के लिए प्रारंभिक सहायता राशि दी गई है।

कोरबा जिले में पर्याप्त जंगल मौजूद हैं और उतनी ही संख्या में जंगली जानवर भी अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं। वन विभाग के जानकारों का कहना है कि जंगली जानवरों को अपने इलाके में दूसरों की दखल बिल्कुल पसंद नहीं है, इसलिए बार-बार हिंसक घटनाएं हो रही हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि समय के साथ लोग इस सच्चाई को समझेंगे और जंगल के भीतर जाने से बचेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here