“महात्मा गौतम बुध्द को हिन्दुत्व की परिधि से बाहर मानने वाले अनभिज्ञ हैं”

"महात्मा गौतम बुध्द को हिन्दुत्व की परिधि से बाहर मानने वाले अनभिज्ञ हैं" -अभिजीत सिंह अपने गौतम बुद्ध के लिए 'ईशोपनिषद' में आया है-. ॐ पूर्णमदः पूर्णमिदं...

साक्षात् चण्डी का अवतार थीं रानी दुर्गावती

'साक्षात् चण्डी का अवतार थीं रानी दुर्गावती' ~कृष्णमुरारी त्रिपाठी अटल रानी दुर्गावती एक ऐसा नाम जिनके स्मरण मात्र से वीरता की भावना का ज्वार स्वतः उठने...

शल्य चिकित्सा और आचार्य चाणक्य

शल्य चिकित्सा और आचार्य चाणक्य ―देवेन्द्र सिंह शल्य क्रिया से शिशुजन्म को "सीजेरियन" कहते हैं और इसको जूलियस सीजर के जन्म से जोड़कर मानते हैं ।...

दुर्गा मैय्या प्रकृति के शौर्य और सौंदर्य की प्रतीक ; माता पहाड़ावाली की...

दुर्गा मैय्या प्रकृति के शौर्य और सौंदर्य की प्रतीक माता पहाड़ावाली की भी कुछ सुनिए! -जयराम शुक्ल चौतरफा भक्ति भाव का वातावरण है। इन नौ दिनों सभी...

महर्षि वाल्मीकि

महर्षि वाल्मीकि आनन्द-रामायण के राज्यकाण्ड में भगवान् श्रीराम के दरबार में बैठे हुए वाल्मीकि ऋषि से देवगुरु बृहस्पति ने पूछा -- "आपने रामावतार होने से...

झांसी की अधीश्वरी वीरांगना लक्ष्मीबाई

झांसी की अधीश्वरी वीरांगना लक्ष्मीबाई ―प्रियांशु सेठ स्वराज्य की रक्षा में अपना सर्वस्व निछावर कर देने वाली महारानी लक्ष्मीबाई के जीवन की स्मृतियों का स्मरण कर...

अष्टाङ्ग योग का उद्देश्य

अष्टाङ्ग योग का उद्देश्य -प्रियांशु सेठ (वाराणसी) मनुष्य जीवन दो उद्देश्यों से बंधा है- श्रेय: (धर्म-मार्ग) और प्रेय: (भोग-मार्ग)। भोगवादी मनुष्य प्रेय: को अपने जीवन का...

बेटी का जन्म अर्थात् शक्ति का अवतरण

बेटी का जन्म अर्थात् शक्ति का अवतरण ~डॉ.विवेक चौरसिया माँ की कोख से बेटी का जन्म सच्चे अर्थों में धरती पर शक्ति का अवतरण है। शास्त्र...

स्मरण : आचार्य रामचंद्र शुक्ल ; चिंतामणि में विचारप्रवाह

स्मरण : आचार्य रामचंद्र शुक्ल ; चिंतामणि में विचारप्रवाह ~डॉ.राजेंद्र सिंघवी हिंदी निबंध साहित्य के क्षितिज पर आचार्य रामचंद्र शुक्ल का पदार्पण एक युगांतरकारी परिवर्तन का...

क्या स्वास्तिक के बारे में आप इतना कुछ जानते हैं ..? ? 

क्या स्वास्तिक के बारे में आप इतना कुछ जानते हैं ? स्वस्तिक अत्यन्त प्राचीन काल से भारतीय संस्कृति में मंगल और शुभता का प्रतीक माना...
20,539FansLike
2,325FollowersFollow
0SubscribersSubscribe