सतना-मैहर जिले की सात विधानसभा सीटों पर 54 फीसदी कर्मचारियों ने दिया कांग्रेस को वोट, भाजपा के हिस्से में सिर्फ साढ़े 28 फीसदी डाकमत

50
0

प्रदेश में भाजपा ने प्रचंड बहुमत के साथ भले ही सरकार में वापसी कर ली है लेकिन चुनाव में सरकारी अमला सरकार के साथ सतना में भी नजर नहीं आया। डाकमतों में सरकारी कर्मचारियों की सरकार के प्रति नाराजगी और पुरानी पेंशन स्कीम के प्रति रुझान साफ नजर आया। नतीजतन तमाम घोषणाओं, योजनाओं के बावजूद भाजपा के हिस्से में सतना में सिर्फ साढ़े 28 फीसदी डाकमत ही आ सके।

सतना-मैहर जिले की सात विधानसभा सीटों पर चुनाव में सरकारी, अधिकारियों, कर्मचारियों ने भाजपा के प्रति बड़ी नाराजगी का इजहार अपने मतों के जरिए किया है। इन सातों सीटों पर भाजपा को सिर्फ 28 फीसदी डाकमत ही मिले हैं जबकि लगभग 72 फीसदी कर्मचारियों ने भाजपा के खिलाफ कांग्रेस- बसपा अथवा अन्य के पक्ष में अपने वोट डाले हैं।

जिले में सबसे अधिक 6399 वोट कांग्रेस को मिले जबकि भाजपा को 3380,बसपा को 1659 और अन्य को 466 वोट मिले। कुल पड़े 11844 डाकमतों मे से 32 वोट नोटा के हिस्से भी आए।सबसे अधिक 2494 डाकमत सतना में पड़े जबकि सबसे कम 536 वोट मैहर में पड़े।

किस सीट पर किसे कितने डाकमत

क्षेत्र भाजपा कांग्रेस बसपा
चित्रकूट 946 360 237
रैगांव 725 661 205
सतना 1430 598 435
नागौद 812 472 349
मैहर 536 345 114
अमरपाटन ​​​​​​​ 1042 442 109
रामपुर 908 502 210
कुल 6399 3380 1659

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here