Home छत्तीसगढ़

जिला अस्पताल में पिछले पखवाड़े में हुए एक सौ से अधिक निःशुल्क ऑपरेशन, ओपीडी भी बढ़ी

31
0

कोरबा | कोरबा के इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय में अब सामान्य ऑपरेशनों से लेकर स्तन कैंसर तक की निःशुल्क सर्जरी होने लगी है। पिछले एक पखवाड़े में इस अस्पताल में स्तर कैंसर सहित नाक, कान, गला, आंख, गर्भाशय, हड्डी, जोड़ों से संबंधित बीमारियों सहित प्रसव संबंधी 105 छोटे-बड़े ऑपरेशन निःशुल्क हो चुके हैं। अस्पताल में पदस्थ सर्जन चिकित्सकों ने जिले की दो स्तन कैंसर पीड़ित महिलाओं के भी सफल ऑपरेशन कर उन्हे इस खतरनाक बीमारी से निजात दिला दी है। इसे कलेक्टर श्रीमती रानू साहू की स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए गंभीरता के परिणामों के रूप में देखा जा रहा है। कलेक्टर की पहल से ही जिला अस्पताल में पिछले एक सप्ताह में ओपीडी मरीजों की संख्या में भी लगभग 24 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हो गई है। पिछले 15 दिनों में  अस्पताल के सामान्य सर्जरी विभाग में 29, स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग में 34, हड्डी रोग विभाग में 04, नेत्र रोग विभाग में 36, नाक, कान, गला विभाग में दो मरीजों के सफल ऑपरेशन हुए हैं। अस्पताल में पदस्थ सर्जन हर हफ्ते औसतन 06 से सात ऑपरेशन कर रहे हैं। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने जिला अस्पताल में मरीजों के सफल ऑपरेशनों पर डॉक्टरों को शुभ कामनाएं दी हैं।

जिला अस्पताल में ऐसे निःशुल्क ऑपरेशन होने से गंभीर बीमारियों से पीड़ित जिले के गरीब मरीजों को ईलाज की अच्छी सुविधा मिल रही है। पहले ऐसे मरीजों को आपरेशन के लिए रायपुर-बिलासपुर, भिलाई के साथ-साथ अन्य बड़े शहरों का रूख करना पड़ता था। आने-जाने, ईलाज आदि में मरीजों का काफी पैसा खर्च होता था। जिला अस्पताल में ऑपरेशन निःशुल्क होने से अब मरीजों का यह पूरा खर्चा बच रहा है। इसके साथ ही जिले में ही स्थानीय स्तर पर ईलाज हो जाने से आगे फालोअप के लिए भी सुविधा हो गई है।

जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय में बने दो सुसज्जित मॉड्यूलर ऑपरेशन थियेटरों में रोज ही मरीजों की सर्जरी की जा रही है। पिछले 15 दिनों में अस्पताल में 83 बड़े और 22 छोटे ऑपरेशन कर मरीजों का सफल ईलाज किया गया है। इन ऑपरेशनों में स्तन कैंसर के कारण बीमार दो महिलाओं की कैंसर गांठों की सर्जरी, किडनी और यूरिनरी ब्लेडर में पथरी, बच्चादानी और गर्भाशय की बीमारी की सर्जरी, हिप ज्वाइंट और पैर की हड्डियों का ऑपरेशन, मोतियाबिंद के ऑपरेशन, जटिल प्रसव संबंधी सर्जरी, नसबंदी, गैंगरीन के ऑपरेशन शामिल हैं। डॅा. बोर्डे ने बताया कि पिछले एक सप्ताह में जिला अस्पताल में ओपीडी मरीजों की संख्या भी बढ़ी है। पिछले हफ्ते की तुलना में ओपीडी में लगभग 500 मरीजों की बढ़ोत्तरी के साथ 24 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। आईपीडी में भी लगभग आठ प्रतिशत की वृद्धि हुई है। खून, पेशाब सहित विभिन्न प्रकार की पैथोलॉजी जांचों में भी लगभग छह प्रतिशत की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। सोनोग्राफी के द्वारा मरीजों की जांच भी छह प्रतिशत बढ़ी है। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने जिला अस्पताल में मरीजों के बेहतर ईलाज पर संतोष जताया है और अस्पताल में सभी मरीजों का गंभीरता से ईलाज करने के निर्देश पदस्थ डॅाक्टरों को दिये हैं। उन्होंने अस्पताल में मरीजों के लिए जरूरी जीवनरक्षक दवाओं की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए भी मुख्य चिकित्सक एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बोर्डे को निर्देशित किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here