Home खेल

प्रधानमंत्री ने थॉमस कप विजेता टीम को बधाई देने के साथ ही भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दीं

53
0

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार थॉमस और उबर कप जीतने वाली भारतीय बैडमिंटन टीम के खिलाड़ियों से मुलाकात की है। अपनी इस मुलाकात में प्रधानमंत्री ने टीम को बधाई देते हुए उनकी इस उपलब्धि को सराहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आपकी इस जीत से लोगों का सपना पूरा हुआ है। इस दौरान खिलाड़ियों ने भी प्रधानमंत्री के साथ अपने अनुभव साझा किए। पीएम कहा कि किसी भी टूर्नामेंट में कोई भी निर्णायक मैच सांस रोकने वाला होता है।

इसपर खिलाड़ियों ने कहा कि मैच चाहे पहला हो या अंतिम हमने हमेशा देश की जीत दिखी। मोदी ने कहा, ‘एक समय था जब हमारी टीम थॉमस खिताब जीतने की सूची में काफी पीछे हुआ करती थी। भारतीयों ने कभी इस खिताब का नाम भी नहीं सुना होगा पर आज आपने इसे देश में लोकप्रिय कर दिया है।

इस भारतीय टीम ने यह दिखाया है कि अगर मेहनत की जाए, तो कुछ भी हासिल किया जा सकता है। विश्व स्पर्धा का दबाव होना ठीक है पर आपने उस दबाव से निकलकर इतिहास रचा है।’ प्रधानमंत्र ने टीम के कप्तान किदांबी श्रीकांत,सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी, चिराग शेट्टी, लक्ष्य सेन और एचएस प्रणॉय से भी बात कर उनका उत्साह बढ़ाया और उनको उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दीं।

श्रीकांत ने कहा कि हमारे खिलाड़ियों को यह कहते हुए हमेशा गर्व होगा कि हमें अपने प्रधानमंत्री का समर्थन भी प्राप्त है। वहीं मुख्य कोच पुलेला गोपीचंद ने कहा कि प्रधानमत्री भी खिलाड़ियों और खेल का अनुसरण करते हैं, और उनके विचार खिलाड़ियों से जुड़ते हैं। वहीं भारतीय युगल टीम के कोच डेनमार्क के माथियास बो ने कहा, ‘मैं एक खिलाड़ी रहा हूं और मैंने देश के लिए पदक जीते हैं

पर हमारे प्रधानमंत्री ने मुझे कभी मिलने के लिए नहीं बुलाया।’ मोदी ने कहा कि आज लक्ष्य सेन ने अपना वादा पूरा किया है। उन्होंने कहा था कि मिठाई खिलाऊंगा। आज वह मेरे लिए मिठाई लेकर आए हैं। वहीं लक्ष्य ने कहा कि पीएम ने अल्मोड़ा की बाल मिठाई मांगी थी। मैं उनके लिए मिठाई लेकर गया था। यह दिल को छू लेने वाला है कि उन्हें खिलाड़ियों की छोटी-छोटी बातें याद रहती हैं।

भारतीय टीम ने थॉमस कप के फाइनल मुकाबले में 14 बार की चैंपियन इंडोनेशिया को हराकर पहली बार यह खिताब जीता था। भारतीय टीम पहली बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थी। भारत को थॉमस कप जिताने में कप्तान किदांबी श्रीकांत, चिराग-सात्विक के साथ ही युवा शटलर लक्ष्य सेन और एचएस प्रणॉय की अहम भूमिका रही। प्रधानमंत्री ने श्रीकांत से उनके अनुभव भी पूछे और खिलाड़ियों को प्ररेत करने और खिताबी जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाने के लिए उनकी तारीफ भी की।

वहीं इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अपने एक ट्वीट में कहा, ‘हमारे बैडमिंटन चैंपियनों के साथ बातचीत हुई, जिन्होंने थॉमस कप और उबर कप के अपने अनुभव साझा किए हैं। खिलाड़ियों ने अपने खेल के विभिन्न पहलुओं, बैडमिंटन से परे जीवन और बहुत कुछ के बारे में बात की। देश को उनकी उपलब्धियों पर गर्व है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here