गोवध के संदेह में पीट-पीट कर ले ली थी जान,हत्या के 2 आरोपियों को उम्र कैद

19
0

गौ तस्करी के संदेह पर एक युवक की पीट-पीट कर हत्या करने और दूसरे की भी जान लेने की कोशिश करने के मामले में मैहर की अदालत ने दो आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। आरोपियों पर 30 हजार रुपए जुर्माना भी लगाया गया है।

प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश मैहर प्रशांत शुक्ला ने 17 मई 2018 को बदेरा थाना क्षेत्र के ग्राम अमगार में हुई सिराज उर्फ राका निवासी पुरानी बस्ती मैहर की हत्या और उसके साथी शकील पर जानलेवा हमले के मामले में आरोपी पवन सिंह पिता जागेश्वर (35) तथा विजय सिंह पिता ललन (33) निवासी अमगार बदेरा को दोषी करार दिया है।

अदालत ने दोनों आरोपियों को आजीवन कारावास और अन्य धाराओं में 7 साल की कैद की सजा सुनाई है। साथ ही आरोपियों पर 30 हजार रुपए जुर्माना भी लगाया गया है। मामले में राज्य शासन की तरफ से अभियोजन अधिकारी गणेश पांडेय ने पैरवी की।

अभियोजन के मुताबिक, बीते 17 मई 2018 को मृतक सिराज उर्फ राका और शकील मैहर से बस में बैठ कर कटनी गए थे। वहां से लौटते समय उन्हें कैमोर से बस नहीं मिली। वहां से वे एक डंपर पर सवार होकर पिपरा माइंस तक आए और वहां से भदनपुर तक का सफर पैदल ही तय करने लगे।

जब वे अमगार पहुंचे तो वहां राय खदान के पास आरोपियों समेत दो अन्य लोगों ने उन्हें रोक कर पूछताछ शुरू कर दी। सिराज और शकील ने उन्हें बताया कि वे मैहर जा रहे है। हालांकि आरोपियों ने उन्हें गोवंश का वध करने वाला बताते हुए मारपीट शुरू कर दी।

काफी देर तक मारपीट करने के बाद आरोपी वहां से भाग निकले। जबकि सिराज और शकील घटनास्थल पर ही पड़े रहे। कुछ देर बाद सूचना पर डायल 100 वाहन मौके पर पहुंचा और दोनों को मैहर अस्पताल ले आया। जहां डॉक्टरों ने सिराज को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने हत्या के इस मामले में 19 मई को ही दोनों आरोपियों पवन और विजय को गिरफ्तार कर लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here