Home छत्तीसगढ़

83 योजना और 14251 हैण्डपंपों के माध्यम से होगा जिले में पानी उपलब्ध

30
0

कोरबा  कोरबा जिले की शहरी और ग्रामीण आबादी को शुद्ध और साफ पेयजल उपलब्ध हो सके, इसके लिए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग बेहतर तरीके से काम कर रहा है। सरकार के द्वारा उपलब्ध कराई गई राशि का उपयोग योजनाओं को क्रियान्वित करने में किया जा रहा है। 83 नल जल योजना और 14251 हैंडपंप के माध्यम से वर्तमान में लोगों को जल उपलब्ध कराना सुनिश्चित हो रहा है। इसके अलावा कुछ ग्रामों में सौर ऊर्जा से चलने वाली नल जल योजनाओं का लाभ भी लोगों को मिल रहा है।

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कोरबा स्थित कार्यपालन अभियंता अनिल कुमार ने बताया कि कोरबा जिले में कई इलाकों को पानी देने के लिए हमारे विभाग ने 102 स्थानों पर नल जल योजना का क्रियान्वयन किया हुआ है। वर्तमान स्थिति में 83 योजनाओं का संचालन हो रहा है जबकि तकनीकी कारणों से 15 इकाइयां बंद है। जिले के विभिन्न क्षेत्रों में 14375 हैंडपंप स्थापित किए गए हैं। अब तक की स्थिति में 14251 क्रियाशील हैं जबकि 125 हैंड पंप बंद है। शेड्यूल के अनुसार विभिन्न क्षेत्रों में परीक्षण के साथ ऐसे हैंडपंपों की पहचान हमारा मैदानी अमला करता है और इसी के साथ तकनीकी सुधार का काम किया जाता है।

कार्यपालन अभियंता ने बताया कि कोरबा जिले में केंद्र सरकार की जल जीवन मिशन योजना के अंतर्गत 434 ग्रामों को पानी उपलब्ध कराने के लिए ग्रुप स्कीम तैयार की गई हैं। जिन स्थानों पर वाटर लेबल अच्छा नहीं है, वहां के लिए संबंधित क्षेत्रों को नदी से जोडऩे की योजना है। शुरुआती प्रक्रिया पूरी होने के बाद इस दिशा में आगे का काम लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग करेगा।

इसके क्रियान्वयन से हम बहुत बड़े हिस्से में लोगों को शुद्ध और स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने में सफल होंगे। बताया गया कि कोरबा जिले में कुछ स्थानों पर फ्लोराइड और आयरन की मात्रा पानी के साथ प्राप्त होने की शिकायतें मिल रही थी। इस स्थिति में हमने रिमूवल ट्रीटमेंट प्लांट स्थापित किया है और वर्तमान स्थिति में किसी भी क्षेत्र में इस प्रकार की समस्या नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here