Home Main

अजूबा : जन्मदिन पर बाप ने बेटे को गिफ्ट कर दी चाँद पर जमीन

450
0
अजूबा : जन्मदिन पर बाप ने बेटे को गिफ्ट कर दी चाँद पर जमीन

सतना। बेटे को जन्मदिन पर देने के लिए यूं तो हर कोई कुछ न कुछ गिफ्ट खरीदता है लेकिन सतना के एक शख्स ने अपने दो साल के बेटे के लिए एक ऐसा अनोखा तोहफा खरीदा है जिसके बारे में लोग सिर्फ कल्पना ही कर सकते हैं। शहर के भरहुत नगर निवासी अभिलाष मिश्रा नाम के इस युवा ने अपने बेटे को जन्मदिन के उपहार में चांद पर जमीन दी है।

 

बेंगलुरु में एक निजी कंपनी में रीजनल मैनेजर के पद पर कार्यरत सतना के अभिलाष मिश्रा ने अपने 2 वर्ष के बेटे अव्यान को चांद पर एक एकड़ जमीन खरीद कर गिफ्ट की है। बुधवार 15 दिसम्बर को अव्यान 2 वर्ष का हो गया,इस अवसर पर अभिलाष ने अपने बेटे को यह नायाब तोहफा दिया।

अभिलाष के इस गिफ्ट से उनके माता पिता भी बेहद खुश हैं और पत्नी श्वेता की खुशी का तो कोई ठिकाना ही नही है। अभिलाष का कहना है कि हमने अपने चांद से बेटे को चांद पर जमीन दी है। यह हमारे लिए बेहद गौरवपूर्ण है। इस जमीन के दस्तावेज अव्यान के जन्मदिन के दिन 15 दिसम्बर से ही अस्तित्व में आये हैं। जमीन के अधिकार पत्र के साथ बेटे को चांद पर सिटिजनशिप भी मिली है।

उन्होंने न्यूजपोस्टमॉर्टम से बातचीत में बताया कि बेटे का जन्मदिन आने वाला था। इसी बीच ऑफिस में बैठे बैठे पता चला कि लोग चांद पर जमीन खरीद रहे हैं। ऑनलाइन पता लगाना शुरू किया तो मालूम हुआ कि यूएसए की लूना चांद पर जमीन बेचती है। संपर्क किया तो लूना सोसायटी ने चांद पर उपलब्ध जमीन की 10 साइट्स के बारे में जानकारी भेजी। उनमे से हमने वह साइट चुनी जो चांद की डार्क साइट में नही थी। इन्ही में से एक एकड़ जमीन हमने पसन्द की और भुगतान कर दिया। कंपनी ने रजिस्ट्रेशन पेपर, सर्टिफिकेट, सिटिजनशिप सर्टिफिकेट समेत कई दस्तावेज भेज दिए।

अभिलाष ने बताया कि वे सरप्राइज देना चाहते थे इसलिए उन्होंने चांद पर बेटे के लिए जमीन खरीदने के बारे में अपनी पत्नी को भी नही बताया। उसके दूसरे जन्मदिन के दिन 15 दिसम्बर को जब उन्होंने डाक्यूमेंट्स निकाले तो घर के सदस्यो की खुशी का ठिकाना नही रहा। अभिलाष ने बताया कि चांद पर इस जमीन का मालिकाना हक वंशानुगत रहेगा। हम तो शायद चांद पर न जा पाएं लेकिन जिस तरह से दुनिया और विज्ञान तरक्की कर रहे हैं उससे यह उम्मीद है कि हमारा बेटा या उसका बेटा चांद पर जरूर जाएगा। जब वे वहां जाएंगे तो वहां भी इनकी अपनी जमीन होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here